Rewa News: मासूम बच्चे के साथ मां ने खुद को किया था आग के हवाले, पति की प्रताडऩा से आ चुकी थी आजिज

तीन दिन पहले मां-बेटे की जलकर हुई मौत के मामले में खुलासा
 | 
suicide


Woman commits suicide with innocent son: मध्यप्रदेश के रीवा जिले के मनगवां बस्ती (Mangawan Basti of Rewa district) में तीन दिन पहले मां और उसके एक साल के बच्चे की  जलने से मौत हो गई थी। शुरुआत में अफवाह उड़ी कि सिलेंडर फटने से ये यह घटना हुई। लेकिन माजरा कुछ और ही सामने आया। दरअसल ससुराल वाले आत्महत्या के इस मामले को हादसा साबित करने की कोशिश कर रहे थे। लेकिन पुलिस को मामला संदिग्ध लग रहा था। क्योंकि महिला घटना के एक दिन पहले ही मायके से आई थी। हादसे के दौरान किचन के दोनों गेट भी बंद थे। ससुराल वालों बयानों में विरोधाभास था। ऐसे में पुलिस ने गहनता से जांच की तो सारा सच सच सामने आ गया।

16 जनवरी को हुई थी वारदात
दरअसल यह घटना 16 जनवरी की दोपहर रीवा के मनगवां बस्ती (Mangawan Basti ) में घटी थी। यहां की निवासी अंजना वर्मा (25) और उसके बेटे अर्पित (1) के शव अधजले हालत में मलबे में दबे हुये मिले थे। कच्चा घर होने के कारण छप्पर जलकर नीचे आ गिरा था। हादसे के बाद अफवाह उड़ी कि खाना बनाते समय गैस सिलेंडर फटने से आग लग गई। मौके पर पुलिस पहुंची को ससुराल वालों ने बताया कि महिला जिस कमरे में खाना बना रही थी, उसके दोनों दरवाजे अंदर से बंद थे, जिससे आग में मां और बेटा अंदर ही फंस गए। 

सख्ती से की गई पूछताछ
मामला संदिग्ध होने पर मनगवां थाना पुलिस ने अंजना के पति अमित वर्मा (32) को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की। सास और ससुर का भी बयान लिया गया। जिससे यह बात सामने आई कि पति की प्रताडऩा से तंग आकर अंजना ने अपने बच्चे के साथ आत्महत्या की है। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे सेंट्रल जेल रीवा भेज दिया गया।

suicide

एक दिन पहले ही आई थी मायके से 
बताया गया है कि आरोपी पति नागपुर में रहता था और महिला बच्चे के साथ मायके में रहती थी, मायका सीधी में है। पति-पत्नी के बीच रिश्ते काफी खराब थे। उनमें अक्सर विवाद होता रहता था। पति हाल ही में नागपुर से लौटा था। पत्नी को भी घटना के एक दिन पहले ही मायके से लेकर आया था। और अगले ही दिन उसने आत्महत्या कर ली।