Rewa News : दो दिन से लापता युवक का मिला शव, आक्रोशित परिजनों ने लगाया चक्का जाम, पुलिस पर फेंके पत्थर

लखैरी बाग तालाब में मिला युवक का शव
 | 
Dead body of a young man missing for two days was found

रीवा शहर के सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के लखौरी बाग तालाब में दो दिन से लापता युवक का शव बरामद हुआ है।  परिजनों का आरोप है कि हत्या के बाद शव को तालाब में फेंक गया है। पुलिस के अनुसार दो दिन से युवक लापता था। शव मिलने की सूचना परिजनों को दी गई। युवक का शव देख कर आक्रोशित परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। इसी दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीण पहुंचे। जिन्होंने हत्या का आरोप लगाते हुए चोरहटा-रतहरा रोड पर जाम लगा दिया।  इसके बाद पुलिस और प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर समझाइश देते हुए जाम खुलवाया। सड़क जाम के दौरान आधा दर्जन थानों से पहुंचे जवानों को देखकर परिजन भड़क गए। दावा किया जा रहा है कि  भीड़ से महिलाओं ने पुलिस पर पत्थर भेंकना शुरू कर दिया। हालांकि पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए सभी को शांत कराते हुए यातायात को बहाल कराया।

बताया गया है कि शनिवार की सुबह 7 बजे सिटी कोतवाली थाना अंतर्गत लखौरी बाग तालाब में एक युवक की लाश मिली। सूचना पर थाने का अमला मौके पर पहुंचा। जिसके बाद आसपास के थानों से लापता लोगों की जानकारी मंगाई गई। जिसके बाद मृतक की शिनाख्त अरविंद पटेल निवासी टेकुआ गांव थाना चोरहटा के रूप में हुई। परिजनों ने पुलिस को बताया कि मृतक दो दिन से लापता था, तीसरे दिन कोतवाली क्षेत्र में शव मिला।

पुलिस की जांच में हादसा, परिजन ने लगाया हत्या का आरोप
एफएसएल टीम द्वारा जुटाए गए वैज्ञानिक साक्ष्य के आधार पर पुलिस इसे हादसा मान रही थी। क्योंकि मृतक के मुंह से सिर्फ खून गिरा है, पूरा शरीर सुरक्षित है। ऐसे में हादसे की आशंका व्यक्त की जा रही थी। वहीं परिजनों हत्या कर शव फेंकने का आरोप लगाया है। 

तीन घंटे चला बवाल, पुलिस ने भांजी लाठियां
बताया गया है कि कि परिजन हत्या के आरोपियों को पकड़े की मांग पर बवाल मचा रहे थे। उनका कहना था कि  तीन संदेहियों को पुलिस ने उठाया है। प्राथमिक जांच में हादसा होना समझ में आया है। हालांकि मौत की असली वहज पीएम रिपोर्ट के बाद सामने आएगी। परिजनों ने प्रदर्शन करते हुए सुबह 9 से 12 बजे तक एजी कालेज मोड में शव रखकर जाम किए थे। पुलिस ने समझाइश देने के बाद लाश पीएम के लिए भेजी है। प्रदर्शन कारियों का कहना था कि मृतक अरविंद पटेल के हत्यारों को गिरफ्तारी की जाए। वहीं सुबह-सुबह शहर के मुख्य मार्ग में जाम से वाहनों की लंबी लाइन लग गई। ऐसे में सिटी कोतवाली, सिविल लाइन, चोरहटा सहित यातायात विभाग का पुलिस अमला प्रदर्शन कारियों को मनाने में जुटा रहा। लेकिन मृतक के परिजन मानने को तैयार नहीं थे। जिसके बाद पुलिस ने भीड़ को तितर वितर करने की कोशिश की, लेकिन इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पत्थर बाजी शुरू कर दी। जिसके बाद पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए खुलवाया है।