टॉपर से थी जलन, बेटा दूसरे नंबर पर आया तो टॉपर को जूस में जहर देकर मार डाला

 | 
CRIME

पुडुचेरी के कराईकल का है यहां एक छात्र को परीक्षा में टॉप करना भारी पड़ गया। सेकंड टॉपर की मां ने उसे जूस में जहर देकर मार डाला।  आरोपी मां को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जांच में पता चला है कि महिला को 8वीं कक्षा के छात्र के अव्वल आने पर जलन होती थी इसलिए उसने टॉपर की हत्या कर दी।

13 वर्षीय मृतक छात्र बाला मणिकंदन कराईकल के प्राइवेट स्कूल में कक्षा 8वीं में पढ़ता था। यह माता-पिता राजेंद्रन और मालती के साथ कराईकल की नेहरू कॉलोनी में रहता था। वह उसने हाल ही में अपनी क्लास में टॉप किया था। इससे परीक्षा में दूसरे नंबर पर रहे छात्र की मां विक्टोरिया दुखी थी। इसके चलते उसने बाला को मारने की योजना बनाई। पुलिस ने बताया कि शनिवार को स्कूल से आने के बाद छात्र की तबीयत बिगड़ गई। उसे लगातार उल्टी होने लगी। जब उसकी मां ने उससे पूछा कि क्या उसने स्कूल में कुछ खाया, तो उसने बताया कि उसने जूस पिया था, जो चौकीदार ने उसे दिया था। बच्चे को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से भी पता चला कि ड्रिंक में जहर मिला हुआ था।
CCTV से हुई महिला की पहचान
घटना के बाद पड़ताल शुरू की गई. बाला के माता-पिता ने चौकीदार से पूछा कि उसे जूस क्यों दिया था, तो चौकीदार ने बताया कि एक महिला उसके पास आई और बोली कि यह जूस बाला को दे देना, यह उसके घर से आया है। सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर महिला चौकीदार को जूस देती नजर आई। बाद में, उसकी पहचान बाला के क्लासमेट अरुल मैरी की मां विक्टोरिया के रूप में हुई। इसके बाद पुलिस ने विक्टोरिया को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने बताया कि बाला क्लास में टॉप करता था, जबकि उसका बेटा दूसरे नंबर पर आता था, इससे उसे जलन होती थी। इसके बाद पुलिस ने विक्टोरिया को न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।