घोटाले पर चर्चा से बचना चाहती है सरकार, पर हम चुप नहीं बैठेंगे

कमलनाथ ने कहा-कुपोषण में अव्वल श्योपुर, सरकार चीता इवेंट में लगी,
फिर से विधायक बनाना है तो मंडल, सेक्टर बूथ मैनेजमेंट पर करें फोकस
 | 
Addressed the meeting of Congress Legislature Party at Bhopal residence, interacted with the MLAs on various issues regarding the session of the Legislative Assembly.

आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मध्य प्रदेश कांग्रेस संगठन को मजबूत करने में जुटी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के निवास पर सोमवार शाम हुई विधायक दल की बैठक में उनका पूरा फोकस मंडल, सेक्टर और पोलिंग बूथ के गठन पर रहा। उन्होंने विधायकों से कहा, वे चाहते हैं कि आप लोग दोबारा जीतकर विधानसभा में आए, लेकिन फिर उन्हें फिर से विधायक चुनकर आना है तो वह मंडल, सेक्टर और बूथ का मैनेजमेंट ढंग से करें।  इसे हल्के में ना लें। चुनाव जीतने का यही मूल मंत्र है। मैं यह बात अपने लिए नहीं कर रहा हूं बल्कि आप के भले के लिए कह रहा हूं। संगठन को मजबूत किए बिना चुनाव जीतना संभव नहीं है। हाल में हुए नगरी निकाय चुनाव में संगठन के बल पर ही जीते हैं। कमलनाथ ने कहा शिवराज सरकार में मध्य प्रदेश घोटालों का प्रदेश बन चुका है, सरकार इन घोटाले पर चर्चा करने से बचना चाहती है लेकिन हम चुप नहीं बैठेंगे। हम इन घोटालों को पूरी ताकत से सदन में उठाएंगे। प्रदेश का श्योपुर जिला कुपोषण में देश में प्रथम है, लेकिन कुपोषण दूर करने की बजाय सरकार चीता इवेंट में लगी है। 

 विधानसभा क्षेत्र में रहे, भोपाल आने की जरूरत नहीं 

उन्होंने कहा कि चुनाव में 13 महीने बचे हैं, सभी विधायक अपने विधानसभा क्षेत्र में सक्रिय रहकर जनता की आवाज उठाएं, उन्हे भोपाल आने की जरूरत नहीं है। कमलनाथ ने कहा कि माहौल हमारे पक्ष में है शिवराज सरकार से आज हर वर्ग परेशान है।  कमलनाथ ने करीब 40 मिनट के भाषण में 30 मिनट मंडल सेक्टर के गठन पर बोले। 

kamal
घोटालों पर सरकार को पूरी ताकत से घेरेंगे

मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉक्टर गोविंद सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश घोटालों का प्रदेश बना गया है। अब हमारे सामने पूरक पोषण आहार घोटाला है, कारम डैम घोटाला, यूरिया घोटाला है। किसानों को प्याज व लहसुन के दाम नहीं मिल पा रहे हैं। बाढ़ से नुकसान का मुआवजा अभी तक नहीं मिला है, कानून व्यवस्था की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है लेकिन सरकार सदन में इन मुद्दों पर चर्चा से बचना चाहती हैं, इसलिए उसने सत्र की अवधि कम रखी है, लेकिन हम इन मुद्दों को पूरी दमदारी से सदन में उठाएंगे। हमें सदन में एकजुट होकर हमलावर कर रखना है। बैठक में नवनियुक्त प्रदेश प्रभारी जेपी अग्रवाल का प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और नेता प्रतिपक्ष डॉ गोविंद सिंह ने शाल ओढ़ाकर स्वागत किया। अग्रवाल ने कहा कि विधानसभा चुनाव नजदीक हैं सभी लोग संगठन को मजबूत करने में पर ध्यान दें। हमें मिलकर काम करना है जहां मेरी जरूरत होगी मैं उपलब्ध रहूंगा।