Mp Weather Report:मध्य प्रदेश की तरफ तेजी से बढ़ रहा है बर्फीले हवाओं का तूफान

मौसम विभाग का कहना है कि अटलांटिक महासागर से उठा बर्फीला हवा का तूफान बहुत तेज गति से मध्यप्रदेश की तरफ आ रहा है
 | 
मौसम विभाग का कहना है कि अटलांटिक महासागर से उठा बर्फीला हवा का तूफान बहुत तेज गति से मध्यप्रदेश की तरफ आ रहा है जिसके कारण यही माले के पश्चिम क्षेत्र से भारत की सीमा में प्रवेश करेगा और मध्य प्रदेश के उत्तर पश्चिम वाले स्थित इलाकों में ठंडी हवाओं का कहर बरसाएगा.  भारत के मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों का कहना है कि अटलांटिक महासागर से बर्फीली हवा का एक तेज तूफान जो भूमध्य सागर की ठंडी हवाओं के साथ मिलकर और भी तेज हो गया है.वह एशिया की सबसे बड़ी झील कैस्पियन सागर से गुजरने के कारण यह और अधिक शक्तिशाली होता जा रहा है.   इस बर्फीले तूफान के कारण हिमालय के पश्चिमी क्षेत्र में दिनांक 20 जनवरी 2023 को प्रवेश कर सकता है.साथ ही 26 जनवरी तक इसके कारण हिमालय में बर्फबारी भी हो सकती है.भारत के मौसम विभाग के वैज्ञानिकों का कहना है कि यह भारत के कुछ हिस्सों में अपना कहर बरसाने वाला है. साथ ही से मध्यप्रदेश तेजी से  प्रभावित होगा.  यह बर्फीला तूफान दिल्ली से लेकर राजस्थान को भी प्रभावित करेगा. साथियों मध्यप्रदेश के तरफ बढ़ता हुआ आएगा.हालांकि हिमालय में इस तूफान के कारण बर्फबारी होगी जिसके कारण यह तूफान थोड़ा कमजोर पड़ जाएगा.लेकिन मध्य प्रदेश में ठंड की थर्ड डिग्री के लिए यह तूफान काफी होगा.  इस तूफान के आने के कारण प्रभावित इलाकों में शीतलहर का प्रकोप दिखाई देगा.साथ ही यह हार्टअटैक और ब्रेन स्ट्रोक जैसी घटनाएं को भी अंजाम देगा.भारतीय मौसम विभाग के वैज्ञानिकों का कहना है कि यह मध्य प्रदेश में 23 जनवरी 2023 को आएगा तथा 25 जनवरी तक इसका असर मध्यप्रदेश में बना रहेगा.

मौसम विभाग का कहना है कि अटलांटिक महासागर से उठा बर्फीला हवा का तूफान बहुत तेज गति से मध्यप्रदेश की तरफ आ रहा है जिसके कारण यही माले के पश्चिम क्षेत्र से भारत की सीमा में प्रवेश करेगा और मध्य प्रदेश के उत्तर पश्चिम वाले स्थित इलाकों में ठंडी हवाओं का कहर बरसाएगा.

भारत के मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों का कहना है कि अटलांटिक महासागर से बर्फीली हवा का एक तेज तूफान जो भूमध्य सागर की ठंडी हवाओं के साथ मिलकर और भी तेज हो गया है.वह एशिया की सबसे बड़ी झील कैस्पियन सागर से गुजरने के कारण यह और अधिक शक्तिशाली होता जा रहा है.

 इस बर्फीले तूफान के कारण हिमालय के पश्चिमी क्षेत्र में दिनांक 20 जनवरी 2023 को प्रवेश कर सकता है.साथ ही 26 जनवरी तक इसके कारण हिमालय में बर्फबारी भी हो सकती है.भारत के मौसम विभाग के वैज्ञानिकों का कहना है कि यह भारत के कुछ हिस्सों में अपना कहर बरसाने वाला है. साथ ही से मध्यप्रदेश तेजी से  प्रभावित होगा.

यह बर्फीला तूफान दिल्ली से लेकर राजस्थान को भी प्रभावित करेगा. साथियों मध्यप्रदेश के तरफ बढ़ता हुआ आएगा.हालांकि हिमालय में इस तूफान के कारण बर्फबारी होगी जिसके कारण यह तूफान थोड़ा कमजोर पड़ जाएगा.लेकिन मध्य प्रदेश में ठंड की थर्ड डिग्री के लिए यह तूफान काफी होगा.

इस तूफान के आने के कारण प्रभावित इलाकों में शीतलहर का प्रकोप दिखाई देगा.साथ ही यह हार्टअटैक और ब्रेन स्ट्रोक जैसी घटनाएं को भी अंजाम देगा.भारतीय मौसम विभाग के वैज्ञानिकों का कहना है कि यह मध्य प्रदेश में 23 जनवरी 2023 को आएगा तथा 25 जनवरी तक इसका असर मध्यप्रदेश में बना रहेगा.