संस्यास लेने के बाद भी MS Dhoni नहीं बन सकेंगे Superkings की फ़्रेंचाइज़ी के कोच, जाने क्यों

SA20 लीग में सुपरकिंग्स की फ़्रेंचाइज़ी वाली जॉबर्ग सुपरकिंग्स के कैप्टन फाफ दु प्लेसिस है जो आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स की तरफ़ से भी खेलते हैं 
 | 
w

SA20 लीग में सुपरकिंग्स की फ़्रेंचाइज़ी वाली जॉबर्ग सुपरकिंग्स के कैप्टन फाफ दु प्लेसिस है जो आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स की तरफ़ से भी खेलते हैं 

भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से तीन साल पहले ही संन्यास ले लिया है। वर्तमान में वो सिफ़ आईपीएल खेल रहे हैं। जिसमे वह चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान हैं। सुपरकिंग्स की एक और फ़्रेंचाइज़ी है जो सैफ़ अफ़्रीका में SA20 सुपर लीग खेल रही है। इसके कप्तान फाफ दु प्लेसिस हैं जो की चेन्नई सुपरकिंग्स की तरफ़ से भी खेलते हैं। फाफ दु प्लेसिस के अलावा ऐसे कई खिलाड़ी है जो दोनों फ़्रेंचाइज़ी के लिए खेलते हैं। जबकि भारतीय खिलाड़ियों के लिए ऐसा नहीं है, उन्हें किसी विदेशी लीग में खेलने के लिए भारतीय क्रिकेट को पूरी तरह से अलविदा कहना पड़ेगा।

महेंद्र सिंह धोनी इस साल अपना आख़िरी आईपीएल खेलने जा रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास के बाद एमएस धोनी अभी तक कोई टूर्नामेंट नहीं खेल रहे हैं। ऐसे में कई लोगों के मन में यह सवाल उठ रहा है कि वे सुपरकिंग्स की फ़्रेंचाइज़ी के लिए क्यों नहीं खेल रहे हैं या फिर क्यों उन्हें कोचिंग नहीं दे रहे है। लेकिन इसका जवाब यह है कि यह काम केवल धोनी तो क्या कोई भी भारतीय खिलाड़ी नहीं कर सकता। क्योकि बीसीसीआई के नियमों के अनुसार किसी भी भारतीय खिलाड़ी को कोई विदेशी टूर्नामेंट में भाग लेने की अनुमति नहीं हैं। किसी भी खिलाड़ी को विदेशी टूर्नामेंट में भाग लेने के लिये भारतीय क्रिकेट से संस्यास लेना पड़ेगा तभी जाके वह विदेशी टूर्नामेंट खेल सकता है। 

वर्तमान में गौतम गंभीर हैं सुपरजैंट्स के ग्लोबल मेंटर 
इसी नियम के अनुसार एमएस धोनी जॉबर्स सुपरकिंग्स में कोई काम नहीं कर सकते हैं। अगर उन्हें कोई काम करना है तो उन्हें चेन्नई सुपरकिंग्स सहित भारतीय क्रिकेट से संन्यास लेना पड़ेगा। आपको बता दें की आईपीएल 2022 के सीजन में लखनऊ सुपरजॉइंट्स के मेंटर रहे गौतम गंभीर अब ग्लोबल रोल संभल रहे हैं जिसके तहत वो सुपरजॉइंट्स के किसी भी फ़्रेंचाइज़ी में मेंटर बन सकते हैं।