Rewa News: एचटी लाइन की चपेट में आने से किसान की मौत, बेसहारा हुईं दो मासूम बेटियां, बिजली कंपनी की बड़ी लापरवाही आई सामने

15 दिन से टूटी पड़ी थी हाईटेंशन लाइन, सूचना देने के बाद भी नहीं कराई गई मरम्मत
 | 
rewa news

मध्यप्रदेश के रीवा जिले में बिजली कंपनी की लापरवाही से एक किसान की मौत हो गई। 15 दिन से टूटी पड़ी हाईटेंशन लाइन के करंट की चपेट में किसान आ गया। गुरुवार की रात किसान खेतों में सिंचाई करने गया हुआ था इसी दौरान वह करंट में फंस गया। ग्रामीणों के मुताबिक विद्युत कंपनी के अधिकारियों को सूचना देेने के बाद भी इस 11 हजार केवी व 33 हजार केवी लाइन को नहीं जोड़ा गया। जिसके चलते यह हादसा हो गया।

थाने का किया घेराव
रात में घर से खेत जाने के लिए निकले किसान के नहीं लौटने पर परिजन उसकी तलाश में खेत पर पहुंचे तो वह विद्युत लाइन के पास मृत मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई की। लेकिन अक्रोशित परिजन शव का पीएम कराने के लिए तैयार नहीं हुए और थाने का घेराव कर दिया। जब मांगें नहीं मानी गईं तो ग्रामीणों ने शुक्रवार की दोपहर नेशनल हाईवे 30 पर जाम लगा दिया। 

जाम से दोनों ओर लगी वाहनों की कतार
गुस्साये ग्रामीणों ने शुक्रवार दोपहर करीब 12 घंटे से प्रयागराज- जबलपुर मार्ग में जाम लगा दिया। करीब पांच सौ ग्रामीण गढ़ थाना अंतर्गत टिकुरी 32 के पास हाईवे पर जाम लगा दिया। जिससे नेशनल हाईवे क्रमांक 30 में दोनों ओर वाहनों के पहिए थम गए। करीब पांच किलोमीटर की दूरी तक दोनों ओर वाहनों की कताल लग गई। ग्रामीणों मांग कर रहे थे कि कलेक्टर मौके पर आयें और दोषी विद्युत कंपनी के कर्मियों पर कार्रवाई की जाये। 

चार दिन पहले पिता की हुई थी मृत्यु 
बताया गया है कि बीमारी के चलते पांच दिन पहले ही लक्ष्मण प्रसाद पटेल की मृत्यु हो गई थी, और अब बड़े बेटा मुकेश कुमार पटेल (33) की मौत विद्युत कंपनी की लापरवाही से हो गई। मृतक की दो मासूम बेटियां है। ऐसे में बेटियों की परवरिश के लिए उचित मुआवजे की मांग की जा रही है। 

आधा दर्जन थानों का बल तैनात
स्थिति को नियंत्रण पर लाने के लिए कलेक्टर मनोज पुष्प व पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन के निर्देश पर एसडीएम मनगवां, एसडीएम त्योंथर, तहसीलदार मनगवां सहित एसडीओपी व आधा दर्जन थानों का बल मौके पर मुस्तैद रहा।