सेंट्रल जीएसटी का रीवा में मोबाइल कारोबारी के यहां छापा, देर रात तक चली कार्रवाई

लाखों की टैक्स चोरी की आशंका, मंगलवार को भी जारी रहेगी पड़ताल
 | 
aakash ganga

रीवा। शहर के शिल्पी प्लाजा शॉपिंग कॉप्लेक्स  में संचालित आकाश गंगा मोबाइल दुकान में सोमवार को सेंट्रल जीएसटी की टीम ने छापामार कार्रवाई की। सुबह करीब दस बजे से शुरू  हुई कार्रवाई देर रात तक चलती रही, अभी भी जांच पूरी नहीं हो पाई है। जिसके चलते मंगलवार को भी जांच प्रक्रिया जारी रहने की संभावना है। बता दें कि यह दुकान हरमीत सिंह दुग्गल द्वारा संचालित की जाती है, जो शहर के प्रमुख मोबाइल कारोबारी हैं। लगातार शिकायतें मिल रही थी कि एसेंबल किए हुए मोबाइल बिना बिल के भी बेचे जा रहे हैं। जिसका उल्लेख आया में नहीं किया जाता। इसके अलावा रिटर्न भरने में भी दुकानदार ने कई तरह से मनमानी करते हुए टैक्स चोरी करने का प्रयास किया है। इन्हीं शिकायतों के आधार पर सेंट्रल जीएसटी की चार सदस्यीय टीम जांच के लिए पहुंची। इस टीम के साथ सुरक्षा बल भी मौजूद रहा। जांच टीम द्वारा देर शाम तक स्टाक और रजिस्टर का मिलान किया गया। दुकानदार ने अपने आय से संबंधित सभी दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए समय मांगा है।

aakash ganga

दुकान खुलने से पहले ही पहुंच गई थी जांच टीम
सुबह दुकान खुलने के पहले ही जांच अधिकारी पहुंच गए थे। वह दुकान खुलने का इंतजार कर रहे थे,  जैसे ही दुकान खुलेगी वह छापामार कार्रवाई करने की योजना से गए हुए थे। सुबह करीब दस बजे जैसे ही दुकान खुली तो जीएसटी के अधिकारी पहुंच गए। दुकानदार ने कर्मचारियों ने ग्राहक समझकर पूछा कि आपको कौन सा मोबाइल दिखाना है। इस दौरान जब जांच टीम के अधिकारियों ने अपना परिचय दिया तो दुकानदार के होश उड़ गए। इसकी जानकारी दुकान संचालक को दी गई और उसको भी सभी दस्तावेज लेकर बुलाया गया।

aakash ganga

लाखों रुपए की टैक्स चोरी की आशंका
पूरे दिन चली पड़ताल के बाद जांच अधिकारियों ने देर शाम जानकारी दी कि दस्तावेज व्यवस्थित नहीं होने की वजह से जांच में अभी और समय लग रहा है। हर दस्तावेज का बारीकी से परीक्षण किया जा रहा है। अनुमान  है कि लाखों की कर चोरी सामने आएगी और उस पर जुर्माना भी लगाया जाएगा। बताया गया है कि दुकानदार ने अपनी आय और व्यय से जुड़ा रिटर्न भी सही तरीके से नहीं भरा है।