मुकेश अंबानी ने लगाई ऊंची छलांग, ब्रांड गार्जियनशिप इंडेक्स 2023 में पहुंचे पहले पायदान पर

मुकेश अंबानी ने लगाई ऊंची छलांग, ब्रांड गार्जियनशिप इंडेक्स 2023 में पहुंचे पहले पायदान पर
 | 
मुकेश अंबानी ने लगाई ऊंची छलांग, ब्रांड गार्जियनशिप इंडेक्स 2023 में पहुंचे पहले पायदान पर

रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने सभी भारतीयों को पीछे छोड़ते हुए बड़ी छलांग लगाई है। इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी उन्होंने बड़ा मुकाम हासिल किया है।  दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी को ब्रांड गार्जियनशिप इंडेक्स 2023 में वैश्विक स्तर पर दूसरी स्थान दिया गया है। जबकि भारतीयों में वे सबको पीछा छोड़ते हुए पहले स्थान पर रहे। यह इंडेक्स ब्रांड फाइनेंस द्वारा यह तैयार किया जाता है।  ब्रांड गार्जियनशिप इंडेक्स सीईओ की विश्व में सबसे अधिक मान्यता मानी जाती है। इसके पीछे की प्रमुख वजह है अपने साथ जुड़े लोगों, हितधारकों, कर्मचारियों, निवेशकों और व्यापक समाज की जरूरतों को संतुलित करके एक समान रूप से व्यावसायिक मूल्य का निर्माण कर रहे हैं।

जारी रिपोर्ट की माने तो जारी किए गए इस सूचकांक में माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला, गूगल के सुंदर पिचाई, एप्पल के टिम कुक और टेनसेंट के हुआतेंग मा टाटा समूह के एन चंद्रशेखरन, आनंद महिंद्रा, सुनील भारती मित्तल आदि दिग्गज शामिल हैं। न्यूज एजेंसी की एक खबर के मुताबिक ब्रांड फाइनेंस के सर्वेक्षण ने मुकेश अंबानी को 81.7 का बीजीआई स्कोर दिया, जो अमेरिका स्थित टेक लीडर एनवीडिया के जेन्सेन हुआंग के 83 से ठीक नीचे है। 
गौर करने वाली बात है कि पहले दो स्थानों पर कब्जा करने वाले दिग्गजों ने पिछले साल शीर्ष पर रहने वाले माइक्रोसॉफ्ट के सत्या नडेला को तीसरे स्थान पर ढकेल दिया है। जारी किए गए सूचकांक में शीर्ष 10 में सबसे ज्यादा लोग भारतीय या भारतीय मूल से हैं।

जारी सूचकांक में एडोब के शांतनु नारायण चौथे जबकि सुंदर पिचाई पांचवें स्थान पर रहे हैं। डेलॉयट के पुनीत राजन छठे जबकि टाटा समूह के चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन आठवें स्थान पर हैं। वहीं डीबीएस के पीयूष गुप्ता नौवें स्थान पर हैं जबकि टेंसेंट के हुआतेंग मा 10वें स्थान पर रहें। वहीं महिंद्रा समूह के प्रमुख आनंद महिंद्रा 23वें स्थान पर काबिज हैं।

रिलायंस के प्रबंध निदेशक और चेयरमैन अंबानी दूसरे स्थान पर हैं। वह रिलांयस समूह के प्रमुख की भूमिका में 40 साल से हैं। वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के दौरान डेलॉइट के सहयोग से आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में ब्रांड फाइनेंस के ब्रांड संरक्षकता सूचकांक को दावोस में लांच किया गया। जिसमें दुनिया के शीर्ष 100 सीईओ की रैकिंग की घोषणा की गई। सर्वेक्षण के अनुसार “रिलायंस ब्रांड के चेहरे के रूप में, अंबानी ने सकारात्मक बदलाव किए। ब्रांड गार्जियनशिप इंडेक्स और ब्रांड गार्जियनशिप रैंकिंग 1,000 बाजार विश्लेषकों और पत्रकारों के सर्वेक्षण पर आधारित है।