देश के 10 राज्यों में PFI के खिलाफ NIA और ED ने लिया एक्शन, 100 से ज्यादा की गईं गिरफ्तारियां, हो रहा विरोध प्रदर्शन

नेताओं के घर पर रेड, पार्टी के चेयरमैन सलाम परद भी शिकंजा कसा
 | 
NIA and ED took action against PFI

नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गुरुवार सुबह आतंकवाद के खिलाफ अभियान में बड़ी कार्रवाई की। बताया जा रहा है कि जांच एजेंसियों ने देश के करीब  10 राज्यों में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया यानी PFI पदाधिकारियों के आवास सहित दफ्तरों पर रेड की कार्रवाई है। इस दौरान अधिकारीयों ने 100 से ज्यादा कैडर को गिरफ्तार किया है। इस कार्रवाई के विरोध में कर्नाटक, केरल में पार्टी कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध करते हुए सडकों पर उतर आये ।

बताया जा रहा है की NIA ने आतंकवाद में फंडिंग, ट्रैनिंग कैंप करने में शामिल लोगों के आवास और आधिकारिक ठिकानों पर सर्चिंग करते हुए तलाशी ली है। जानकारी के अनुसार NIA की रेड उत्तर प्रदेश, आंध्र प्रदेश, केरल, कर्नाटक, तेलंगाना और तमिलनाडु में जारी है। समाचार एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि जांच एजेंसियों ने प्रदेश पुलिस के साथ मिलकर करीब 10 राज्यों में 100 से ज्यादा कैडर्स को गिरफ्तार किया है। NIA ने इसके अलावा तमिलनाडु में भी कोयंबटूर, रामनाद, कुड्डलोर, दिंडुगल, थेनी और थेनकाशी समेत कई जगहों पर PFI के पदाधिकारियों के घर में  रेड की है। राजधानी चेन्नई में PFI के प्रदेश मुख्यालय में भी तलाशी की जा रही है ।

चेयरमैन के खिलाफ की कार्रवाई 

पीएफआई के प्रदेश और जिला स्तरीय नेताओं के घर पर जांच एजेंसियों ने रेड की है। इस बार एजेंसियों ने मलप्पुरम जिले के मंजेरी में पार्टी के चेयरमैन सलाम परद भी सख्ती करते हुए शिकंजा कसा है। सलाम के खिलाफ कार्रवाई को लेकर विरोध में पार्टी कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। गुरुवार को बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतर कर जमकर नारेबाजी की।

रविवार को भी की थी रेड की कार्रवाई 

बता दें की रविवार को भी NIA ने आंध्र प्रदेश के अलग-अलग जिलों में रेड की कार्रवाई थी। इस दौरान PFI सदस्यों को पूछताछ के लिए साथ ले जाया गया था। हिंसा भड़काने और गैर कानूनी गतिविधियों से जुड़े मामलों में जांच एजेंसी ने कार्रवाई की थी। बताया गया है की उस दौरान जांच एजेंसी NIA अधिकारियों की 23 टीमों में निजामाबाद, कुर्नूल, गुंटूर और नेल्लोर जिले में करीब 38 ठिकानों तलाशी ली थी।