कौन होगा मुलायम सिंह की सीट का वारिस? जानिए अखिलेश मैनपुरी से किसे बना रहे सपा प्रत्याशी

आज अखिलेश कर सकते हैं इसकी घोषणा  
 | 
Who will inherit Mulayam Singh seat

समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह के निधन के बाद उनकी संसदीय सीट रिक्त हो गई है। उनकी सीट मैनपुरी पर संसदीय उपचुनाव होने जा रहा है। जिसे लेकर पार्टी में माथापच्ची चल रही है। मंगलवार को दिनभर चली कशमकश के बाद माना जा रहा है कि समाजवादी पार्टी की ओर से बुधवार को मुलायम सिंह की इस सीट का वारिस घोषित कर दिया जाएगा। 
इस उपचुनाव को लेकर मंगलवार को भी भाजपा और सपा ने प्रत्याशी के नाम का सस्पेंस बरकरार रखा। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार की शाम 7 बजे सैफई पहुंच गए थे। मंगलवार को उन्होंने पूरा दिन सैफई में ही गुजारा। लेकिन पार्टी की ओर से प्रत्याशी कौन होगा इस पर रुख साफ नहीं किया। 

बता दें कि लोकसभा सीट मैनपुरी के उपचुनाव में समाजवादी पार्टी  की राजनैतिक प्रतिष्ठा भी दांव पर  है। सपा के लिए यह सीट सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। अदरअसल इस सीट से मुलायम सिंह यादव पांच बार सांसद बने थे। वहीं दो बार सैफई परिवार के सदस्य धर्मेंद्र यादव और तेजप्रताप यादव भी सांसद बनकर दिल्ली पहुंच चुके हैं।  1989 से लेकर जितने भी चुनाव हुए सभी में सपा का दबदबा रहा है। हर बार मैनपुरी के लोगों ने मुलायम सिंह या फिर उनके द्वारा घोषित प्रत्याशी को ही जीत का सेहरा पहनाया। जातिगत समीकरणों की बात करें तो इस लिहाज से भी मैनपुरी सीट सपा के लिए सुरक्षित सीट मानी जाती है।

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को परिवार के लोगों से प्रत्याशी के चयन को लेकर मंथन किया। प्रत्याशी के चयन सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव भी सैफई पहुंच गए थे। अखिलेश यादव ने रामगोपाल के घर जाकर लगभग डेढ़ घंटे मैनपुरी उपचुनाव और पार्टी के प्रत्याशी को लेकर मंथन किया। रामगोपाल के साथ अखिलेश इटावा भी गए। पूरे दिन प्रत्याशी के नाम की घोषणा की चर्चा होती रही। लेकिन घोषणा नहीं हुई। आज सपा अपना प्रत्याशी घोषित कर देगी ऐसा कहा जा रहा है।