मरने से पहले गाय, बछड़े और भैंस को निकाला बाहर, इतने में महिला के ऊपर ढह गई कच्चे घर की दीवार

मलबे में दबने से घुटा दम और निकल गई जान
 | 
rewa news

मध्य प्रदेश के रीवा जिले के मनगवां थाना अंतर्गत दुबगवां गांव में एक महिला के ऊपर कच्चे घर की दीवार गिरने से मौत हो गई। दो दिन से हो रही रिमझिम बारिश के चलते मिट्टी के कच्चे घर में सीलन फैल गई थी। इसी दौरान महिला को दीवार गिरने का अंदेशा हुआ और उसने आनन-फानन में सोचा कि अगर दीवार गिरी तो मवेशी मर जाएंगे। ऐसे में उसने तुरंत एक गाय, एक बछड़ा और एक भैंस को बाहर निकाला। इसी दौरान मिट्टी की दीवार भर-भराकर महिला के ऊपर गिर गई। हादसा होते ही घर के सदस्यों ने गांव में शोर मचाया। और पुलिस को भी सूचना दी गई। हालांकि गांव वालों ने बिना देरी किए मलबा हटाना शुरू कर दिया, लेकिन तब तक एक घंटे का समय बीत गया। इसी बीच महिला मलबे में दबने से दम घुट गया और उसकी मौत हो गई। फिर भी परिजन महिला को लेकर संजय गांधी अस्पताल पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

इसे भी पढ़ें : स्कूल बैग खोलते ही छात्रा के उड़े होश, शिक्षक की सजगता से बालबाल बची छात्रा

मवेशियों के निकलते ही गिरी दीवार
पुलिस के अनुसार गुरुवार की शाम 7 बजे के आसपास रीना दुबे पति मुकेश दुबे 35 वर्ष मवेशियों को भूसा-चारा दे रही थी। इसी दौरान उन्होंने देखा कि मिट्टी के कच्चे घर की दीवार बाहर की ओर झुकने लगी। महिला को अंदेशा हुआ कि अब दीवार गिर जाएगी। महिला ने साहस दिखाते हुए मिनटों में तीनों मवेशियों को बाहर निकाला। तभी सेकंडों के फासले में महिला के ऊपर ही दीवार गिर गई। इस हादसे से गांव में मातम पसरा हुआ है।

इसे भी पढ़ें :छात्राओं की कॉपी में शिक्षक ने लिखा 'मीट मी, आई लव यू', रोते हुए बच्चियां पहुंची घर, परिजनों ने स्कूल किया हंगाम

एसजीएमएच के डॉक्टर ने मृत घोषित किया
दीवार गिरते ही गांव वालों की सहायता से मलबे से महिला को बाहर निकाला गया था। साथ ही तुरंत चार पहिया वाहन से संजय गांधी अस्पताल लेकर आए, लेकिन एसजीएमएच में पहुंचते ही चिकित्सकों ने नब्ज टटोलकर मृत घोषित कर दिया। इधर पुलिस ने रात हो जाने के कारण लाश को मर्चुरी में रखवाया था। शुक्रवार की सुबह पोस्ट मार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है।